WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
best sim card in india 2024 फोन नंबर यूज करने के लिए देने होंगे अलग से पैसे, नहीं किया इस्तेमाल तो लग सकता है जुर्माना

best sim card in india अभी तक आप अपने फोन नंबर को रिचार्ज करने के लिए पैसे देते आए हैं. जल्द ही आपको मोबाइल या लैंडलाइन नंबर रखने के लिए अलग से चार्ज देना पड़ सकता है. टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने लैंडलाइन और मोबाइल नंबर पर चार्ज लगाने का सुझाव दिया है.

अथॉरिटी का कहना है कि मोबाइल नंबर एक सरकारी संपत्ति है, जो मूल्यवान और सीमित है. 6 जून 2024 को जारी हुए एक कंसल्टिंग पेपर में इस प्रस्ताव के बारे में बताया गया है. प्रस्ताव के मुताबिक, इस चार्ज को टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स पर लगाया जा सकता है, जिसे बाद में कंज्यूमर्स से वसूला जा सकता है. best sim card in india

best sim card in india

👉कितना देना होगा रीचार्ज पर चार्ज👈

मोबाइल नंबर सरकारी संपत्ति है- ट्राई

ट्राई का कहना है कि टेलीकॉम सेक्टर में हो रहे बदलावों को ध्यान में रखते हुए नंबरिंग सिस्टम का रिव्यू किया जाना जरूरी है. अथॉरिटी का कहना है कि मोबाइल नंबर एक सीमित सरकारी संपत्ति हैं. इसका सही इस्तेमाल सुनिश्चित करने के लिए इन पर चार्ज लगाना चाहिए. भारत में टेलीकॉम यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी है, जिसकी वजह से ये सेक्टर काफी बदल गया है. ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक, मार्च 2024 में भारत में 1.19 अरब से ज्यादा टेलीफोन कनेक्शन हैं.

ये भी देखे : बच्‍चे के जन्‍म के बाद 18 की उम्र पर होगा ₹50,00,000 का मालिक

साथ ही भारत में टेलीकॉम डेंसिटी 85.69 परसेंट पहुंच गई है. यानी भारत में हर 100 में 85 लोगों के पास टेलीफोन कनेक्शन है. best sim card in india इसकी वजह से टेलीफोन नंबर्स की मांग बढ़ रही है. इसके लिए ट्राई ने नई नबरिंग योजना का प्रस्ताव दिया है. इसके तहत फोन नंबर देने की व्यवस्था को और बेहतर किया जाएगा. अथॉरिटी का कहना है कि स्पेक्ट्रम की तरह ही फोन नंबर देना का अधिकार भी सरकार के पास है.

👉जाणे पुरी जानकारी👈

कई देशों में लगता है फोन नंबर पर चार्ज

मोबाइल कंपनियों को सिर्फ लाइसेंस वैलिडिटी के दौरान ही इनके इस्तेमाल का अधिकार मिलता है. कई दूसरे देशों में भी इस तरह का नियम है, जहां फोन नंबर के लिए अलग से चार्ज देना होता है. कुछ देशों में ये चार्ज टेलीकॉम कंपनियां देती हैं, जबकि कुछ में ग्राहकों को देना होता है. ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, सिंगापुर, ग्रीस, फिनलैंड, लिथुआनिया, कुवैत, नीदरलैंड, हॉन्गकॉन्ग, पोलैंड, स्विट्जरलैंड, नाइजीरिया, डेनमार्क और दूसरे देशों में इस तरह की व्यवस्था है. भारत में भी सरकार इसकी तरह का नियम लागू कर सकती है (अगर ट्राई के प्रस्ताव को माना जाता है). best sim card in india

Agrosolution

ये भी देखे : सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना का पोर्टल प्रारंभ, अब ऐसे कर सकेंगे आवेदन

डुअल सिम वालों की बढ़ेगी मुसीबत

best sim card in india इसके साथ ही ट्राई कम इस्तेमाल होने वाले नंबरों पर भी जुर्माना लगाने पर विचार कर रही है. आसान भाषा में कहें, तो अगर आप किसी सिम का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, तो भी टेलीकॉम कंपनियां उसे बंद नहीं करती हैं. क्योंकि इससे उनका यूजरबेस बड़ा नजर आता है. हालांकि, इससे उस नंबर का सही इस्तेमाल नहीं हो पाता है. ये दिक्कत डुअल सिम रखने वालों के साथ होती है, जिसमें वे अपना एक सिम कार्ड तो यूज कर रहे होते हैं, लेकिन दूसरे को सिर्फ एक्टिव रखते हैं. एक्टिव भी इसलिए रखना होता है क्योंकि टेलीकॉम कंपनियां तमाम सर्विसेस के लंबे समय तक बंद रहने पर सिम कार्ड को डिएक्टिवेट कर सकती हैं.

ये भी देखे : गूगल पे पर सिर्फ 5 मिनट में मिलेगा 1 लाख तक का लोन, फटाफट जानें प्रोसेस…

फिलहाल ट्राई ने ये सभी बातें अपने प्रस्ताव में कही हैं. इस प्रस्ताव पर सभी पक्षों को अपना जवाब जुलाई की शुरुआत तक देना है. इन सभी पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. best sim card in india

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
error: Content is protected !!