Onion price in Bangalore निर्यातबंदी खत्म होने के 10 दिन बाद भी क्यों नहीं बढ़ा प्याज का दाम, किसान ने बताई वजह
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Onion price in Bangalore किसानों का कहना है कि पांच महीने से लगाया गया प्याज एक्सपोर्ट पर प्रतिबंध खोलने से भी मंडियों में किसानों के लिए दाम नहीं बढ़ा है. क्योंकि सरकार ने निर्यातबंदी तो खोली है लेकिन उस पर कुछ ऐसी शर्तें लगा दी हैं कि बाजार में दाम नहीं बढ़ रहा है. इसलिए प्याज एक्सपोर्ट नहीं हो पा रहा है. 

निर्यातबंदी खत्म होने के 10 दिन बाद भी प्याज के दाम में कोई सुधार देखने को नहीं मिल रहा है. महाराष्ट्र में अधिकांश मंडियों में प्याज का न्यूनतम दाम अब भी 1,2,3 और 4 रुपये किलो चल रहा है, जबकि औसत दाम 13-15 रुपये प्रति किलो है. इसी तरह अधिकतम दाम 18 से 25 रुपये तक है. Onion price in Bangalore

Agrosolution

आता पशुपालनासाठी मिळणार 12 लाखापर्यंत कर्ज, ‘या’ योजनेच्या अनुदान वाढ; कसा घ्याल लाभ?

किसानों का कहना है कि पांच महीने से लगाया गया प्याज एक्सपोर्ट पर प्रतिबंध खोलने से भी मंडियों में किसानों के लिए दाम नहीं बढ़ा है. Onion price in Bangalore क्योंकि सरकार ने निर्यातबंदी तो खोली है लेकिन उस पर कुछ ऐसी शर्तें लगा दी हैं कि बाजार में दाम नहीं बढ़ रहा है. इसलिए प्याज एक्सपोर्ट नहीं हो पा रहा है. जिसकी वजह से दाम नहीं बढ़ रहा है. इसलिए चुनाव में अभी भी सरकार के खिलाफ नाराजगी बरकरार है.

महाराष्ट्र एग्रीकल्चरल मार्केटिंग बोर्ड के अनुसार 12 मई को पुणे जिले की मंचर मंडी में प्याज का न्यूनतम दाम सिर्फ 3 और राहता में 2 रुपये किलो रहा. इसी तरह जुन्नर-नरायनगांव में 4 रुपये किलो दाम रहा. जबकि 11 मई को सोलापुर मंडी में प्याज का दाम सिर्फ 1 रुपये किलो था.

Agrosolution

शुरू करना चाहते हैं डेयरी, तो 25 गायों की खरीद पर मिलेगी 31 लाख रुपये की सब्सिडी

किसानों का कहना है कि इस समय महाराष्ट्र की मंडियों में प्याज का न्यूनतम और औसत दाम उत्पादन लागत से कम है. कुछ मंडियों में अधिकतम दाम 25 रुपये किलो तक है लेकिन यह कीमत बहुत कम किसानों को मिलती है.

सिर्फ नाम के लिए खोली गई निर्यातबंदी

महाराष्ट्र देश का सबसे बड़ा प्याज उत्पादक है. Onion price in Bangalore यहां के अहमदनगर के रहने वाले किसान बाजीराव गागरे का कहना है कि प्याज एक्सपोर्ट खुलने के बाद सिर्फ दो दिन दाम बढ़ा था, लेकिन जब सरकार का खेल समझ आया तो मंडियों में किसानों को मिलने वाला दाम पहले की तरह ही हो गया.

Agrosolution

मुर्गी और बकरी के लिए भी मिलेगा लोन…जानिए कैसे करते हैं अप्लाय

Onion price in Bangalore क्योंकि सरकार ने 550 डॉलर प्रति टन न्यूनतम निर्यात मूल्य लगा रखा है. उसके ऊपर 40 फीसदी एक्सपोर्ट ड्यूटी है. इतना महंगा प्याज कौन लेगा. इसलिए मुझे लगता है कि सरकार ने सिर्फ नाम के लिए निर्यातबन्दी खोली है. अगर किसानों को लाभ दिलाना होता तो इतनी शर्तें नहीं लगाई जातीं.

किस मंडी में कितना है प्याज का दाम      

  • राहूरी मंडी में 12 मई को 13727 क्व‍िंटल प्याज की आवक हुई थी. इसके बाद भी यहां प्याज का न्यूनतम दाम 100, अध‍िकतम दाम 1800 और औसत दाम 950 रुपये प्रत‍ि क्व‍िंटल तक पहुंच गया. 
  • राहता में 3072 क्व‍िंटल प्याज की आवक दर्ज की गई. इस मंडी में न्यूनतम दाम 200, अध‍िकतम 4250 और औसत दाम 2800 रुपये प्रत‍ि क्व‍िंटल रहा. Onion price in Bangalore
  • जुन्नर के कोपरगांव में 34 क्व‍िंटल प्याज की आवक हुई. यहां पर न्यूनतम दाम 400, अध‍िकतम 2500 और औसत 1550 रुपये प्रत‍ि क्व‍िंटल रहा. 
  • पुणे ज़िले के वैजापुर मंडी में 13239 क्व‍िंटल प्याज की आवक हुई. यहां पर न्यूनतम दाम 600, अध‍िकतम 1800 और औसत दाम 1200 रुपये प्रत‍ि क्व‍िंटल रहा.

ऐसी ही खबरें देखने के लिए यहां क्लिक करें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
error: Content is protected !!